New Parliament Building | संसद भवन की नई बिल्डिंग – 2022

New Parliament Building

नया संसद भवन : दोस्तों देश की नई संसद भवन ( New Parliament Building ) का निर्माण बहुत तेज़ी से चल रहा है। और बुधवार को नई संसद भवन के सामने देश का राष्ट्र चिन्ह अशोक स्तम्भ ( National Emblem of India ) की स्थापना की गई है। जो नयी ईमारत है वो तीन मंज़िला होगी, संसद की नयी ईमारत भूकंप रोधी क्षमता वाली होगी। नए भवन के निर्माण के दौरान ध्वनि एवं वायु प्रदूषण को नियंत्रित करने के लिए पर्याप्त उपाय किये गए हैं। करीबन 60 हजार स्कवायर मीटर में बनने वाला है। यह भवन सेन्ट्रल विस्टा परियोजना के तहत है। और इसे वर्तमान संसद के नजदीक ही बनाया जा रहा है।

नए संसद भवन की खूबियां

दोस्तों नए संसद भवन की ईमारत तीन मंज़िला होगी। संसद की नई ईमारत भूकप के झटके झेल सके इसलिए भूकंपरोधी क्षमता वाली होगी। नई संसद भवन में वायु और ध्वनि प्रदूषण के लिए पर्याप्त उपाय किये जाएंगे।

60 हजार स्कवायर मीटर में है नया संसद भवन 

नया संसद भवन तकरीबन 60 स्कवायर मीटर में बनने वाला यह नया संसद भवन विस्टा परियोजना के तहत है और इसे वर्तमान में पुराने संसद भवन के नजदीक बनाया जा रहा है।

नए संसद भवन का डिजाइन 

नए संसद भवन ( New Parliament Building ) के निर्माण में सीधे तौर पर दो हजार लोग शामिल हैं। और 9 हजार लोग परोक्ष भागीदारी हैं। नए संसद भवन की डिजाइन त्रिकोणीय है

तेजी से चल रहा है नए संसद भवन का काम 

दोस्तों नए संसद भवन के निर्माण का कार्य तेज़ी से चल रहा है। करीब 100 साल पहले 83 लाख रुपए में बने मौजूदा संसद भवन का संग्रहालय में तब्दील कर दिया जाएगा।

पता नहीं कब तक पूरा होगा काम 

इस नए संसद भवन ( New Parliament Building ) का पूरा काम आजादी के 75 साल पूरे होने तक हो जाने की संभावना है। देश के 3 राष्ट्रीय प्रतीकों कमल, बरगद और मोर पर आधारित Theam इसकी भीतरी शोभा बढ़ाएगी।

1244 सांसदों के बैठने की क्षमता 

उन्होंने बताया है की नए संसद भवन में 1244 सांसद एक साथ बैठ सकेंगे। लोकसभा में 888 सदस्यों और राजयसभा में 384 सदस्यों के लिए सीटें आवंटित होंगी। यह भविष्य में दोनों संदनों के सदस्यों की संख्या में भड़ोत्तरी किये जाने की संभावना को ध्यान में रखते हुए किया जा रहा है। नए लोकसभा का आकर मौजूदा सदन से लगभग तीनगुना होगा। मौजूदा समय में लोकसभा के 543 और राजयसभा के 245 सदस्य है। नई बिल्डिंग की डिजाइन में लोकसभा, राज्यसभा और एक खुला आँगन होगा। दोनों ही संदन सुविधाओं और डिजानिंग के लिहाज State of Art होंगे।

इसे भी जरूर पढ़ें:-

विशाल संविधान कक्ष 

दोस्तों इसका बड़ा आकर्षण संविधान कक्ष ( Constitution Hall ) होगा जहाँ भारत की लोकतान्त्रिक विरासत को दर्शाने के लिए तमाम चीजों के साथ साथ संविधान की मूल प्रति,डिजिटल डिस्प्ले आदि दिखाए जाएंगे। संसद आने वाले दर्शकों खासकर विदेशी डेलिगेशन के लिए भारत की संसदीय लोकतन्त्र को समझने में मदद मिलेगी। लोकसभा के अध्यक्ष ओम बिरला ने कहा – ‘नए भवन के माध्यम से देश की सांस्कृतिक विविधता प्रदर्शित होगी। आशा है की आजादी के 75 साल पूरे होने पर संसद का सत्र नए भवन में आयोजित होगा।’ उन्होंने ये भी कहा की संसद के वर्तमान भवन को देश की पुरतात्विक सम्पति के तौर पर सुरक्षित रखा जाएगा।

नए संसद के नए फीचर्स

दोस्तों जब देश आजाद हुआ था तो इसको देश का संसद भवन बना दिया गया था। हांलाकि वर्तमान संसद भवन पूर्ण लोकतंत्र की द्विसदनीय रूपरेखा को देख कर नहीं बनाया गया था। जब इस भवन की आयु 100 साल होने को है तो इसमें तमाम तरह की दिक्कतें महसूस होने लगी हैं दरअसल मौजूदा संसद भवन भूकंप रोधी भी नहीं है। 100 साल पहले जब ये संसद भवन बना था तब ये इलाका सिसमिक ज़ोन 2 था। दिल्ली अब सिसमिक ज़ोन 4 में है। ऐसे में नए भवन का निर्माण सिसमिक ज़ोन 5 के हिसाब से हो रहा है।

प्राकृतिक रोशनी की कमी नहीं होगी 

दोस्तों मौजूदा संसद भवन में लाइट की पुख्ता व्यवस्था नहीं है। तो इसलिए नए भवन को इस प्रकार बनाया जा रहा है जिसमे प्राकृतिक रोशनी की कोई कमी नहीं होगी। वर्तमान संसद भवन में Fire सिस्टम भी एक गंभीर मसाला रहा है। आग के बचाव की समुचित व्यवस्था यहाँ ऐसी नहीं थी जो आधुनिक पैमाने पर खरा उतरे। नए संसद भवन में इसका पूरा ध्यान रखा गया है।

1 October 2020 को रखी गयी थी नींव 

नए संसद भवन ( Parliament ) के निर्माण की नींव 1 अक्टूबर 2020 को रखी गयी थी। और जबकि इसका निर्माण कार्य दिसंबर में शुरू हुआ था। चार मंजिला ईमारत को बनाने में करीब 860 करोड़ रुपए का खर्च होने का अनुमान है। नए संसद भवन की बिल्डिंग का निर्माण 65 हजार वर्ग मीटर क्षेत्र में कराया जा रहा है लोकसभा में कुल 888 सदस्य और राज्यसभा में कुल 384 सदस्यों के बैठने की व्यवस्था होगी।

Conclusion 

तो दोस्तों आशा करता हूँ की आपको हमारा आर्टिकल ‘New Parliament Building | इंडियन पार्लियामेंट की नई बिल्डिंग – 2022’ पसंद आया होगा और अगर आपको ये पसंद आया है तो इसे अपने दोस्तों और रिस्तेदारो को जरूर शेयर करें ताकि आपके दोस्तों और रिस्तेदारों को भी इसके द्वारा जानकारी मिल सकें। और अगर आपको ये आर्टिकल अच्छा लगा तो हमें कमेंट करके जरूर बताएं। Thank You.

 

Comments

No comments yet. Why don’t you start the discussion?

Leave a Reply

Your email address will not be published.